सौंदर्य और बीमारी की समस्याएं से छुटकारा पाए !

सौंदर्य

मेरे बाल कुछ महीनों से तेजी से झड़ रहे हैं, उन में रूसी भी है. क्या इस के लिए कोई ऐसा ट्रीटमेंट है जिस से मेरे वालों का झड़ना बंद हो सके और नए बाल आ सके ?

बाल झड़ने के पीछे कई कारण होते हैं जिन में रूसी भी एक है. ऐसे में रूसी को ठीक करना बहुत जरूरी है.

 आप के सिर में इस का इन्फैक्शन फैल चुका है, इसलिए अब इसे नैचुरल तरीके से ठीक कर पाना मुश्किल है.

 रूसी से नजात पाने के लिए आप किसी अच्छे कॉस्मैटिक क्लीनिक से बायोप्ट्रान या ओजोन की सिटिग्स ले सकती हैं. 

इन दोनों से डिसइन्फैक्शन होता है जिस से रूसी भी खत्म होती है और बालों का गिरना भी बंद हो जाता है. इस के साथ ही लेजर से बालों का नवीनीकरण होता है,

कोलमुंहासों के कारण मेरे चेहरे पर गड्ढे पड़ गए हैं. इन्हें कम करने के लिए अगर कोई ट्रीटमेंट बताएं और उस में कितना खर्चा आता है?

डमांब्रेशन और रैड लेजर टैक्नीक के जरीए इन गड्ढों किया जा सकता है, 

डर्माब्रेशन कम ट्रीटमेंट में ऐल्यूमिनियम क्रिस्टल्स की मदद से त्वचा की ऊपरी सतह निकल जाती है, जिस से दागधब्बे कम होते हैं 

और लेजर से त्वचा रीजनरेट होती है. इस ट्रीटमेंट के साथसाथ आप अपनी त्वचा पर बंग स्किन मास्क लगवाएं और घर पर कोलाजन सौरम लगाएं, 

यह ट्रीटमेंट सिटिग्स के अनुसार दिया जाता है इसलिए आप की त्वचा को देखे बिना खर्च बता पाना मुश्किल है.

कया असर चेहरे पर दिखने लगा है. इस उम्र में मुझे किस तरह का मेकअप और स्किन केयर करनी चाहिए? कृपया बताएं?

40 साल के बाद त्वचा ढाई हो जाती है. ऐसे में स्किन को नरिश करने के लिए सीटीएमपी अर्थात क्लीजिंग, टोनिंग, मौइस्चराइजिंग ऐंड प्रोटेक्शन आवश्यक है. 

क्लोजिंग के लिए आप को नरिशिंग क्लीजिंग मिल्क का इस्तेमाल करना चाहिए, यह त्वचा को डीप क्लीन करने के साथसाथ रूखेपन को भी दूर करता है,

 स्किन पर ऐजिग दिखने का एक मुख्य कारण ओपन पोर्स होते हैं. इन पोर्स को कम करने के लिए क्लींजिंग के बाद टोनिंग करना बेहद आवश्यक है, 

ध्यान रहे कि आप का टोनर अलकोहल युक्त न हो. साथ ही चेहरे की नमी को बनाए रखने के लिए मौइस्चराइजर जरूर लगाएं,

 चेहरे की केयर करना जितना आवश्यक है, उतना ही जरूरी है उस की प्रोटेक्शन सूर्य को हानिकारक किरणें न केवल त्वचा को झुलसा देती है, 

बल्कि इन के कारण झुर्रियां, ब्राउन स्पोट्स आदि ऐजिंग के निशान दिखाई देने लगते हैं, इसलिए इन से बचने के लिए धूप में निकलने से पहले सनस्क्रीन अवश्य लगाएं,

बहुत समय से में बालों को घरमें ही स्ट्रेट करती है, लेकिन उस का रिजल्ट पार्लर जैसा नहीं मिलता है. मुझे बालों को स्ट्रेट करने का सही तरीका बताएं?

जब आप पार्लर या क्लीनिक में बाल स्ट्रेटनिंग करवाती हैं तो उस को करने वाले लोग नामली ऐक्सपर्ट्स होते हैं 

जो बालों की पतली पतली लेयर्स ले के स्ट्रेटनिंग करते हैं. उन के द्वारा स्ट्रेटनिंग करने में यूज किए जा रहे स्ट्रेटनिंग समाधान की क्वालिटी भी बहुत अच्छी होती है,

 जिसे आप घर में उतने अच्छे तरीके से यूज नहीं कर पाती हैं, इसलिए बेहतर यही है। रोजरोज घर में स्ट्रेटनिंग करने के बदले आप परमानेंट स्टेटनिंग करवा लें जिस से आप की पार्लर जैसे सीधे बाल स्थाई रूप से मिलेंगे, 

स्टेट बाल रखने के लिए आप बालों में परमानेंट हेयर ऐक्सटेंशन भी करवा सकती हैं. यदि परमानेंट हेयर एक्सटेंशन नहीं करवाना चाहती हैं 

तो जब भी बाहर जाएं अस्थाई हेयर एक्सटेंशन लगा कर भी बालों को सेट कर सकते हैं. इस से बाल काफी सुंदर दिखाई देते हैं.

मेरी आंखों के आसपास सूजन दिखाने देने लगी है. ऐसा क्यों होता है और मुझे इसे दूर करने के लिए क्या करना होगा ?

इस तरह की समस्या आंखों के आसपास लिंफ इकट्ठा हो जाने की वजह से उत्पन्न होती है. 

इस का कारण मुख्य तौर पर हैल्थ प्रॉब्लम्स या फिर दवाइयों के साइड इफैक्ट्स होते हैं. 

यदि आप लंबे समय से किसी बीमारी से घिरी हुई है तो सब से पहले अपनी इंटरनल जांच करवाएं और डाक्टर की सलाह के अनुसर अपना इलाज करवाएं,

 इस के अलावा इस सूजन को कम करने के लिए किसी अच्छे कौस्मैटिक क्लीनिक में जाएं, वहां पर लिफ कोवैक्यूम मशीन के जरीए ड्रेन कर

दिया जाएगा और लेजर द्वारा स्किन को रोजनरेट किया जाएगा. यह ट्रीटमेंट वेशक लंबा है, लेकिन इस से फायदा जरूर होगा

मेरी उम्र 30 साल है. मेरी स्किन ऑयली है. मुझे क्रीम या कोलाजन सौरम में से किस का डेली इस्तेमाल करना चाहिए?

सीरम में त्वचा को रिपेयर करने वाले तत्त्व कॉर्सट्रेटेड फॉर्म में होते हैं

 जिस कारण यह बहुत कम मात्रा में लगता है और ज्यादा असरदार होता है. 

जबकि क्रोम माइल्ड होती है इसी कारण सीरम क्रीम से ज्यादा बेहतर होता है,

 अपनी त्वचा को डीपली नरिश करने के लिए रोज सुबह फेस क्या हो सके तो लाइट स्क्रब करने के बाद कोलाजन सीरम का इस्तेमाल कोजिए,

 इस का डेली -इस्तेमाल आप की स्किन को रिपेयर कर के उसे प्रोटेक्ट व हाइड्रेट करेगा साथ ही एजिंग साइन्स को भी दूर करेगा.

रात में सोने से पहले ए.एच.ए. यानी अल्फा हाइड्रोक्सी ऐसिड सौरम लगाएं, इस में 14 फूट ऐसिड होते हैं 

जो त्वचा में कोलाजन तेजी से बना कर उस पर झुर्रियां पड़ने से बचाते हैं और आंखों के नीचे करने में भी मदद करते हैं.

 इस सीरम के रोजाना इस्तेमाल से साइन ऑफ एजिंग कम होंगे साथ ही त्वचा निखरी व जवां नजर आएगी. सीरम औयली स्किन के लिए ज्यादा बेहतर है

 क्योंकि ड्राई स्किन पर सीरम लगाने से हलका खिचाव महसूस होता है.. ड्राई स्किन के लिए क्रीम का इस्तेमाल ज्यादा ठीक है.

मेरी उम्र 34 साल है. कोविड-19 होने के बाद मैं ने ध्यान दिया कि बालों का अच्छी तरह खयाल रखने और उन में तेल लगाने के बावजूद वे बहुत झड़ रहे हैं. आप कृपया सुझाव दें कि मैं अपने आहार में और क्या ले सकता हूं जिस से मेरे वालों का झड़ना रुक जाएं?

इस अवस्था को टैलोजेन एफियूवियम कहते हैं. इस बीमारी के बाद यह हो सकता है.

 इस के लिए आप प्रोटीन और जिंक युक्त आहार लें. अगर इस के बावजूद कोई फर्क नहीं पड़ता तो फेरिटिन, विटामिन डी का टैस्ट करवाएं क्योंकि इन की कमी से भी बाल झड़ सकते हैं.

मेरी उम्र 30 साल है और मैं पीसीओडी की पेशेंट हूं. मुझे अपने आहार में क्या नहीं लेना चाहिए?

आजकल हर 5 में से एक महिला को पीसीओडी है. उस का कारण है हमारी खराब जीवनशैली, इसलिए अपनी जीवनशैली में डेली रूटीन ठीक करें. 

आप अपने आहार से चीनी, मैदा, तली हुई चीजें, पैकेट वाला दूध, रिफाइंड तेल वगैरह हटा दीजिए, जितना हो सके ताजा (फाइबर युक्त) सब्जियां, फल और साबूत अनाज लें.

मेरा बेटा पौष्टिक भोजन खाने में बिलकुल रुचि नहीं लेता है,वह सिर्फ पिज्जा और पास्ता ही पसंद करता है, कृपया ऐसे आहार का सुझाव दें जोकि पौष्टिक भी हो और मेरे बच्चे की रुचि का भी ?

बच्चों को पौष्टिक आहार खिलाने के लिए बहुत जरूरी है। कि आहार दिखने में सुंदर और स्वादिष्ठ भी हो. 

उस के लिए सब्जियों को पूरा बना कर रोटी में या पास्ते में डालें. इस के अलावा नौमल ब्रेड की जगह मल्टीग्रेन ब्रेड से सैंडविच या मल्टीग्रेन पास्ता इस्तेमाल कीजिए, नट्स और सीइस शेक बना कर पिलाएं,

मेरी उम्र 42 साल है और मैं शुगर का पेशेंट हूं. क्या आप मीठे का कोई विकल्प बता सकते हैं ताकि जब मेरी मीठा खाने की इच्छा हो तो मैं उसे ले सकूं ?

शुगर हमारे खराब जीवनशैली की वजह से होती है. सब से पहले अपनी दिनचर्या को ठीक कीजिए और रोजाना व्यायाम करें.

 इस के अलावा जब मीठा खाने का मन करें तब आप 1 खजूर, 100 ग्राम फल, फ्रूट स्मूदी, डार्क चौकलेट आदि खा सकते हैं.

Dr. Padmini Issac

में एक डॉक्टर हूँ,मैं इस ब्लॉग पर स्वस्थ से जुड़े सबलो के जबाब ब्लॉग के रूप में देती रहती हूँ,आशा करती हूँ ये जानकारी आपके स्वस्थ रहने में आपको अनेक मदत करेगी|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *