घरेलू नुस्खों से कहें झुर्रियों को अलविदा

घरेलू नुस्खों से कहें झुर्रियों को अलविदा

हर किसी की चाहत होती जवां व खूबसूरत दिखना, लेकिन उम्र के प्रभाव से बचना नामुमकिन है। जैसे जैसे उम्र बढ़ती है!

झुर्रियों

, झुर्रियों और त्वचा का ढीलापन साफ झलकने लगता है। अगर समय रहते इनकी देख-रेख कर ली जाए तो काफी हद तक हम अपनी त्वचा को जवां बनाए रख सकते हैं।

उम्र बढ़ने के साथ झुर्रियां आना उ स्वाभाविक है। एक समय में झुर्रियों का आना उम्र बढ़ने का इशारा समझा जाता था

 लेकिन आज की भागदौड़ भरी जिंदगी, खाने में जंक फूड अधिक मात्रा में लेना, मोबाइल का अधिक यूज, काम का तनाव और प्रदूषण की वजह से 25 से 30 वर्ष की उम्र में ही चेहरे पर झुर्रियां नजर आने लगी हैं। त्वचा पर झुर्रियां आने का कारण है!

 स्किन में इलास्टिसिटी और नमी की कमी होना। बढ़ती उम्र में विटामिन डी3 को कमी, हामोंस की गड़बड़ी और मेनोपॉज से होने वाली कई समस्याएं भी स्किन के लूज होने के लिए जिम्मेदार होती हैं।

 इसका अहसास आंखों के आसपास, माथे पर, हंसते समय होंठों के आसपास, हाथों व पैरों पर और गर्दन पर हस महसूस कर सकते हैं। इन्हें ‘हाफ लाइन्स’ के नाम से भी जाना जाता है।

एजिंग महंगे प्रोडक्ट्स खरीदने में भी संकोच नहीं करतीं लेकिन ये सब भी थोड़ी देर के लिए ही असरदार होते हैं, साथ में बार वे त्वचा पर कई प्रकार के साइड इफेक्ट्स भी छोड़ जाते हैं। बेहतर तो यह होगा कि हम इन महंगे

प्रोडक्ट्स की जगह घरेलू उपायों को अपनाएं। हमारी किचन में कई तरह की सामग्री हैं, जो त्वचा की कसावट के साथ-साथ उम्र के निशान भी कम करती हैं। शुरुआत करते हैं चेहरे की खूबसूरती को बरकरार रखने से

चेहरे के लिए मास्क

• चेहरे की त्वचा में कसाव लाने के लिए मेथी दाना चूर्ण को गुलाबजल में मिलाकर चेहरे पर 20 मिनट के लिए लगाएं और फिर ताजे पानी से चेहरा धो लें। सप्ताह में 3-4

बार यह क्रिया करें।

 • संतरे के छिलके के पाउडर को चंदन पाउडरऔर गुलाबजल में मिलाकर पेस्ट बनाएं और चेहरे पर लगाएं। यह पैक त्वचा को एक्सफोलेट करता है और चमकदार बनाता है।

• एक चम्मच कॉफी पाउडर में नारियल का तेल मिलाकर तैयार किया पैक त्वचा पर पड़े पैचेस को खत्म करने के साथ त्वचा में कसाव भी लाता है।

• पके हुए मैश्ड पपीता को नींबू के रस के साथ मिलाकर लगाने से नई त्वचा का निर्माण होता है।

• अंडे की सफेदी में दो चम्मच शहद को अच्छी तरह मिक्स कर लें। इसे चेहरे पर लगाने

से धीरे धीरे झुर्रियां खत्म होने लगती हैं।

• मुल्तानी मिट्टी और मिल्क पाउडर का पैक भी बहुत उपयोगी होता है।

• कॉफी पाउडर, ब्राउन शुगर और थोड़ा-सा नारियल तेल मिलाकर तैयार किया पैक भी त्वच पर असरदार है।

• हल्दी, बेसन और दूध या दही का पैक त्वचाकी हर प्रकार की समस्या से निजात दिलाने के साथ-साथ त्वचा में कसाव भी लाता है।

• ऐलोवेरा जैल और टमाटर के रस को

मिलाकर चेहरे पर लगाएं। • पके पपीता के गूदे में शहद मिलाकर चेहरे पर

लगाएं।

• मुल्तानी मिट्टी, गुलाबजल और शहद का पैक भी झुर्रियों को कम करने में कारगर है।

• ऐलोवेरा का ताजा गदा लेकर चेहरे पर मसाज करें और थोड़ी देर लगा रहने दें। जब सूख जाए

तो हल्के गर्म पानी से चेहरा धो दें।

• रोजमेरी ऑयल को खीरे के गूदे में मिलाकर स्मृद पेस्ट तैयार करें व चेहरे पर लगाएं। 20 मिनट के बाद हल्के गर्म पानी से धो लें।

• चेहरे में कसाव लाने के लिए केले और पपीते जैसे फलों का प्रयोग भी कर सकते हैं। इसके गूदे में ऑयरन, जिंक, पोटेशियम, विटामिन ए, बी, सी होते हैं, जो त्वचा को टाइट रखते हैं।

• नारियल (ताजा) को कद्दूकस करके उसे निचोड़ें व उसका दूध निकाल लें और चेहरे पर लगाएं कोकोनट मिल्क विटामिन और खनिजों का खजाना है।

• ग्लिसरीन, गुलाबजल और नींबू का रस मिलाकर कांच की शीशी में भर कर फ्रिज में रख लें और थोड़ा सा मिश्रण हाथों में लेकर रुई से चेहरे पर लगाएं और सूखने पर धो दें।

• दही को अच्छे से मैश करके उसमें खीरा कदूकस करके तैयार किए पैक को लगाएं।

• अपनी त्वचानुसार फेसपैक जरूर लगाएं, क्योंकि यह बुढ़ापे को रोकने में काफी हद तक लाभदायक होते हैं। ये त्वचा को पोषित करके उसमें एक नई जान ला देते हैं।

इन सब घरेलू नुस्खों के अतिरिक्त आप अपने आहार में अखरोट, पिस्ता, बादाम, फिश ऑयल, फल और सब्जियों को भी शामिल करें। ये सभी चीजें एंटी-ऑक्सीडेंट्स, विटामिन और ओमेगा-3 फैटी एसिड के मुख्य स्रोत हैं, जो त्वचा में कसाव लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

आंखों के आसपास की झुर्रियों के लिए

आंखों के आसपास की झुर्रियाँ आँखों को थका व बेजान दिखाती है।

 इन्हें देख कर आप वास्तविक उम्र से अधिक उम्र की दिखती हैं। इसका कारण धूम्रपान, तनाव और विभिन्न तरह के फेस एक्सप्रेशंस होते हैं। 

जब भी आप ८ आड़े-तिरछे होकर चेहरे कोतकिए में या अपनी बाहों में छिपाकर सोते हैं तो आंखों के आसपास ऐसी फाईन लाइनें बनने लगती हैं।

खीरा, अंडे की सफेदी, सेब का रस और नींबू का रस इन सबको अच्छे से मिक्स करके आंखों के आसपास की त्वचा पर लगाएं। ध्यान रखें कि कोई भी आई पैक, ऑयल या क्रीम हमेशा

आंखों से थोड़ी दूरी पर ही लगाएं। बेसन, हल्दी व टमाटर के रस का मिक्सचर सप्ताह में दो बार आंखों के चारों तरफ लगाएं

और सूखने पर गुनगुने पानी से धो दें।

 • गर्म दूध में ब्राऊन शुगर मिलाएं और ठंडा कर लें रूई की सहायता से हर रोज आँखों के

आसपास अप्लाई करें। कॉफी और शहद का पैक लगाएं।

हाथों और पैरों की झुर्रियां उम्र से पूर्व हाथों-पैरों पर झुर्रियां पड़ने से युवा भी परेशान हैं।

 भागदौड़ भरी जिंदगी में प्रदूषण तथा धूप का सबसे ज्यादा हाथ और पैर ही सामना करते हैं। ये हिस्से कपड़ों से बाहर रहते हैं। वैसे तो हमारा चेहरा भी खुला रहता है लेकिन हम उस की देखभाल अच्छी तरह से करते हैं। इन अंगों की त्वचा काफी पतली होती है,इसलिए यह जल्दी प्रभावित होती है।

 • हफ्ते में दो बार नारियल या बादाम तेल से हल्का-हल्का मसाज करें ताकि ब्लड सर्कुलेशन सुचारू रहे और त्वचा को नमी भी मिलती रहे। 

• ग्रीन टी, दही और हल्दी का लेप लगाएं और सूखने पर धो दें। हफ्ते में 2 या 3 बार इसे दोहराएं।

• फ्रैश एलोवेरा जैल का लेप त्वचा पर एक सुरक्षात्मक परत बनाता है और दैनिंग में भी सुधार करता है।

• चार बड़े चम्मच दही और एक चम्मच जैतून तेल को अच्छे से फेंट लें और हाथों-पैरों पर लगा कर 15 मिनट बाद धो दें।

• रात को सोने से पहले 15 मिनट तक गुनगुने नारियल तेल से हाथों-पैरों की मसाज करें और इसे साफ करके 5 मिनट तक हल्के गर्म पानी में हाथों को दुबा कर रखें।

• धूप में जाने से पहले हाथों व पैरों पर कोई क्रीम या लोशन जरूर लगाएं।

• ठंडा दही अच्छे से फेंट लें और उसे हाथों और पैरों पर लगा कर मसाज करें। सूख जाने पर ठंडे पानी से धो लें। दही के लेप से ठंडकमिलती है। जब आप मसाज करते हैं तो टैनिंग से भी छुटकारा मिलता है।

• बेसन व दूध का गाढ़ा लेप लगाएं। जब हल्का-हल्का सूखने लगे तो हल्के हाथों से रगड़ कर छुड़ाएं। इससे जितनी भी गंदगी त्वचा पर होगी, निकल जाएगी।

गर्दन के चारों तरफ की झुर्रियां जैसे-जैसे उम्र बढ़ती है, गर्दन पर कालापन व

झुर्रियां होने लगती हैं। चेहरे की तरह गर्दन भी धूल, मिट्टी और धूप के संपर्क में आती है, जिसके कारण त्वचा कांतिहीन हो जाती है। हमारी उठने, बैठने व लेटने को गलत आदतों के कारण भी गर्दन में झुर्रियां पड़ना स्वाभाविक है।

 • सप्ताह में तीन बार बादाम के तेल की मालिश करवाएं। मसाज नीचे से ऊपर की ओर करें। मालिश के बाद हल्के गर्म पानी में छोटा टॉवल निचोड़ कर गर्दन पर लपेट लें।

• अंडे की सफेदी का मॉस्क गर्दन पर लगाने से त्वचा को प्रोटीन मिलता है। अंडे की सफेदी में बादाम का तेल डाल कर तब तक फेंटे जब तक मिश्रण एकसार ना हो जाए।

• एक चम्मच ऑलिव ऑयल को शहद और पपीते के गूदे के साथ मिक्स करके मिश्रण से ऊपर की तरफ मसाज करें।

• मेथी दाने को उबालकर, उसको

पीस कर एक स्मूद पेस्ट बना लें। और 15 मिनट तक लगाएं। एक हफ्ते में ही त्वचा पर

कसाव नज़र आने लगेगा। • केले को मसलकर उसमें शहद और ऑलिव ऑयल

अच्छे से मिक्स करें और लगाएं।

• बादाम की गिरियों को रातभर दूधः में भीगने दें। सुबह बादाम का छिलका उतार कर बादामों को दूध के साथ पीस लें। इस पेस्ट को गर्दन पर लगाएं। • उड़द की दाल के पाउडर या मसूर की दाल के

पाउडर को दही में मिलाकर गर्दन पर लगाएं और 10 मिनट बाद हाथों से रगड़ते हुए पैक चढ़ाएं और हल्के गर्म पानी से धो लें। यह क्रिया हफ्ते में दो बार दोहराएं।

Dr. Padmini Issac

में एक डॉक्टर हूँ,मैं इस ब्लॉग पर स्वस्थ से जुड़े सबलो के जबाब ब्लॉग के रूप में देती रहती हूँ,आशा करती हूँ ये जानकारी आपके स्वस्थ रहने में आपको अनेक मदत करेगी|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *